भारतीय पासपोर्ट कितने प्रकार का होता है| Types of Indian Passport in Hindi

भारतीय पासपोर्ट कितने प्रकार का होता है| Types of Indian Passport in Hindi

दोस्तो, क्या आप भी पासपोर्ट बनबाना चाहते हैं और जानना चाहते हैं की भारत में कितने तरीके के पासपोर्ट बनते हैं| दरअसल अब तक भारत में नीला, सफ़ेद, मरून ये तीन रंग के पासपोर्ट होते थे|

लेकिन अब भारत ओरेजं रंग का पासपोर्ट भी जारी करता है|

यदि आप विदेश में नौकरी करना चाहते हैं और तो आपको पासपोर्ट की आवश्यकता तो होगी ही| इसके आलावा यदि आपके पास पासपोर्ट है तो यह एड्रेस प्रूफ के रूप में भी मान्य है|

क्योंकि पासपोर्ट को बनवाने समय भारत सरकार पूरी वेरिफिकेशन करती है|

अब आपके मन में सवाल होगा| की अलग अलग रंग के भारतीय पासपोर्ट की आवश्यकता क्या है| ऐसा इसलिए है क्योंकि हर एक रंग के पासपोर्ट का अपना महत्त्व है|

एक खास रंग के पासपोर्ट वाले शख्स को विदेश यात्रा के लिए भी वीजा की जरुरत नहीं होती है|

साथ ही इन्हें इमीग्रेशन अधिकारी जल्द क्लियेंरेस दे देते हैं|

भारत में कितने तरीके के पासपोर्ट होते हैं

आइये चर्चा करते हैं अलग अलग रंग के पासपोर्ट का क्या महत्त्व है|

ब्लू भारतीय पासपोर्ट:-

भारत के आम नागरिक को नीले रंग का पासपोर्ट जारी किया जाता है| यदि आप भारत किसी ख़ास सरकारी विभाग से ताल्लुक नहीं रखते हैं और एक आम नागरिक है तो आपको नीले रंग का पासपोर्ट जारी किया जाएगा|

वाइट भारतीय पासपोर्ट:-

सफ़ेद रंग का पासपोर्ट सरकारी सस्थानों से जुड़े अधिकारीयों को ही जारी क्या जाता है| यह अधिकारी काम के लिए विदेश यात्रा केने वाले अधिकारीयों को जारी किया जाता है|

वाइट पासपोर्ट वाले व्यक्ति को एअरपोर्ट पर कस्टम और इमीग्रेशन अधिकारी अलग तरीके से ट्रीट करते हैं|

इनको ज्यादा ओपचारिकता से नहीं गुजरना पड़ता|

मरून भारतीय पासपोर्ट:-

भारत के राजनेताओं और वरिष्ठ अधिकारीयों को मरून रंग का पासपोर्ट जरी किया जाता है| इसके लिए अलग से आवेदन करनापड़ता है| विदेश यात्रा के दोरान इनको वीजा की आवस्यकता नहीं होती है|

मरून पासपोर्ट धारको के लिए एअरपोर्ट पर कस्टम और इमीग्रेशन अधिकारीयों के द्वारा की जाने वाली सभी फॉर्मेलिटी तेजी से की जाती है ज्यादा परेशान नहीं किया जाता है|

ओरंज भारतीय पासपोर्ट:-

भारत सरकार ने एक ख़ास वर्ग के लिए ऑरेंज पासपोर्ट जारी करने की घोषणा की है| सिका उद्देश्य ऐसे व्यक्ति की पहचान करना है जिसने कक्षा 10 की परीक्षा पास नहीं की है| नियमित पासपोर्ट की तरह ऑरेंज पासपोर्ट में अंतिम पेज नहीं होता है| वल्कि एक पेज पर धारक के पिता का नाम, स्थायी पता और अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां होती है|
ओरंज पासपोर्ट के धारक को हर वार ईसीर (आव्रजन जांच आवश्यक) श्रेणी में आते हैं

कहने का मतलब है| जब भी कोई ऑरेंज पासपोर्ट धारक विदेश जाना चाहेगा उसे आव्रजन अधिकारी द्वारा निर्धारिक मानदंडों को पूरा करने की अव्यश्कता होगी|

Share your love
Default image
Viral Facts India
Articles: 338

Leave a Reply

close