NEFT, RTGS, IMPS, UPI क्या है और अंतर | NEFT, RTGS, IMPS, UPI Meaning, Difference Hindi

NEFT, RTGS, IMPS, UPI क्या है और इनमें अंतर | Difference Between NEFT, RTGS, IMPS UPI Meaning in Hindi, Transaction charges, History,

दोस्तो, यदि आप भी बैंकिंग transaction करते हैं तो आपने आज कल NEFT, RTGS, IMPS UPI के बारे में सुना होगा| शायद आपने इसके माध्यम से पैसे भी ट्रान्सफर किये हों|

लेकिन दोस्तो क्या आपको पता है NEFT, RTGS, IMPS UPI क्या है और इनमें अंतर क्या है (Difference Between NEFT RTGS IMPS UPI meaning in hindi)| इसके अलावा इन सबमें कोनसा बेहतर है|

ये जो सारे तरीके हैं इनके माध्यम से हम एक अकाउंट से दुसरे अकाउंट में पैसे आसानी से ट्रान्सफर और भेज सकते हैं| लेकिन NEFT RTGS IMPS UPI में पैसे ट्रान्सफर का समय और transaction charges अलग अलग होते हैं| इन सभी के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे|

बस आप अंत तक हमारे साथ बने रहिये|

What is NEFT in Hindi (NEFT क्या है)

NEFT का फुल फॉर्म है National Electronic Funds Transfer. NEFT एक बैंक अकाउंट से दुसरे बैंक अकाउंट में पैसा ट्रान्सफर करने का इलेक्ट्रॉनिक माध्यम है|

आसान भाषा में कहने का मतलब है, यदि आपको किसी सगे सम्बन्धी, या फिर व्यापार के लेन देन के लिया पैसा, किसी अकाउंट में ट्रान्सफर करना है तो आप NEFT के माध्यम से 30 मिनट से 2 घंटे के अन्दर पैसा ट्रान्सफर कर सकते हैं| चेक से पेमेंट करने के तुलना में यह एक बेहतर विकल्प है|

कैसे हुई शुरुआत NEFT की (History of NEFT in Hindi)

यह सिस्टम नवम्बर 2005 में शुरू किया गया था| NEFT का प्रवंधन RBI(Reserve Bank of India) के द्वारा किया जाता है और NEFT का डेवलपमेंट Institute of Development and Research in Banking Technology (IDRBT) के द्वारा किया गया था|

कैसे करें NEFT के माध्यम से पेमेंट (Process of NEFT in Hindi)

NEFT बैंक ब्रांच और नेट बैंकिंग दोनों के माध्यम से की जा सकती है|

यदि आप बैंक की ब्रांच से NEFT करना चाहते हैं तो आपको एक फॉर्म भरना पड़ेगा जिसमें आप Beneficiary (जिसे आप पैसे भेजना चाहते हैं) की डिटेल जैसे नाम, बैंक, ब्रांच का नाम, IFSC कोड, अकाउंट का प्रकार (सेविंग और करंट और अकाउंट) नंबर भरके बैंक अधिकारी को देना होता है|

इस फॉर्म के माध्यम से आप (remitter) बैंक को अधिकार देते हैं की आपके अकाउंट से पैसे काटकर आपके द्वारा बताये गए अकाउंट होल्डर के अकाउंट में पैसे ट्रान्सफर करने का|

आपकी बैंक ब्रांच आपके द्वारा दी गई जानकारी मेसेज के माध्यम से NEFT पूलिंग सर्विस सेंटर को उपलब्ध करवाती है| पूलिंग सेंटर मेसेज को NEFT क्लीयरिंग सेंटर को उपलव्ध करवाता है और अगले क्लीयरिंग बैच में पैसा आपके (Remitter) अकाउंट से डेबिट होकर Beneficiary के अकाउंट में क्रेडिट हो जाता है|

NEFT क्लीयरिंग सेंटर सारे मेसेज को बैंक ब्रांच के आधार पर छांटता है और सभी बैंक ब्रांच को पैसे काटने और जमा होने की मेसेज के माध्यम से सुचना देता है और साथ ही साथ अकाउंट होल्डर के पास भी फ़ोन में मेसेज आ जाता है यदि उसने मेसेज फैसिलिटी ली हुई है तो|

कितना समय लगता है पैसा ट्रांसफर होने में

NEFT के माध्यम से भुगतान 8.00 A.M से 7.00 Pm के बीच में हर एक घंटे के बाद 12 batches में किया जाता था| लेकिन अप्रैल 2016 से RBI के सीधा निर्देश पर हर आधे घंटे के बाद 23 batches में लेन देन का भुगतान हो जाता है|

इसको एक उदहारण से समझते हैं, मान लेते हैं पहला बैच 8.30 AM पर क्लियर होगा| 8 बजे से 8.30 के बीच में जितनी NEFT की एप्लीकेशन बैंक को प्राप्त होंगी उन सभी का निपटारा 8.30 AM पर हो जाएगा|

मान लेते हैं अब दूसरा बैच 9 AM का होगा, एक एप्लीकेशन 8.32 पे आई है और दूसरी 8.55 पर दोनों का निपटारा 9 AM पर ही होगा|

यदि आपने NEFT की एप्लीकेशन 5 PM से पहले दी है तो आपका भुगतान इसी दिन होना तय है, यह RBI के दिशा निर्देश हैं|

किस दिन करा सकते हैं NEFT

आप NEFT सोमवार से शनिवार 8 AM से 6.30 PM के बीच में कभी भी करा सकते हैं| लेकिन 2nd 4th शनिवार, इतवार और बैंक हॉलिडे पर NEFT नहीं की जा सकती है|

कितना खर्चा आता है NEFT कराने में (Service Charges for NEFT Transactions)

Up to Rs.10,000 – Rs.2.50

From Rs.10,000 up to Rs.1 lakh – Rs.5

From Rs.1 lakh up to Rs.2 lakh – Rs.15

From Rs.2 lakh up to Rs.5 lakh – Rs.25

From Rs.5 lakh up to Rs.10 lakh – Rs.50

What is RTGS in Hindi (RTGS क्या है)

RTGS का फुल फॉर्म है Real Time Gross Settlement. RTGS सिस्टम में पैसे के भुगतान रियल टाइम (without any delay) में हो जाता है| इसमें कोई बैच और वेटिंग पीरियड नहीं होता है|

लेकिन इसमें कुछ कमियां हैं जैसे यह हाई अमाउंट पर ही किया जा सकता है जैसे कम से कम 2 लाख रूपए का भुगतान RTGS से किया जासकता है| 2 लाख से कम अमाउंट के लिए RTGS मुमकिन नहीं हैं|

कैसे करें RTGS के माध्यम से पेमेंट (Process of RTGS in Hindi)

RTGS से पेमेंट बैंक ब्रांच और ऑनलाइन (नेट बैंकिंग) दोनों माध्यम से किया जा सकता है| प्रोसेस NEFT के जैसा ही है|

कितना समय लगता है पैसा ट्रांसफर होने में

RTGS के माध्यम से रियल टाइम में पेमेंट हो जाती है| कहने का मतलब है जब आप एप्लीकेशन देंगे बस 2 ya 3 मिनट या उससे कम समय में भुगतान हो जाएगा|

किस दिन करा सकते हैं RTGS

आप RTGS सोमवार से शनिवार 8 AM से 6.30 PM के बीच में कभी भी करा सकते हैं| लेकिन 2nd 4th शनिवार, इतवार और बैंक हॉलिडे पर RTGS नहीं की जा सकती है|

कितना खर्चा आता है RTGS कराने में (Service Charges for RTGS Transactions)

Between Rs.2 lakh up to Rs.5 lakh – Rs.25

From Rs.5 lakh up to Rs.10 lakh – Rs.50

What is IMPS in Hindi (IMPS क्या है)

IMPS की फुल फॉर्म Immediate Payments Service है| यह एक inter Bank electronic funds transfer system है जिसके माध्यम से मोबाइल फ़ोन की मदद से रियल टाइम (without any delay) में पेमेंट की जा सकती है|

इस सिस्टम का फायदा यह है की इसे आप 24/7 कभी भी प्रयोग कर सकते हैं| कहने का मतलब हॉलिडे (अवकाश) के दिन भी इसका प्रयोग करके पैसा ट्रान्सफर किया जा सकता है|

भारत सरकार की एक संस्था National Payments Corporation Of India (NPCI) इसको मैनेज करती है|

इसकी शुरुआत 2010 में हुई थी| NPCI ने पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इसे 4 बैंको (SBI, बैंक और इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया, ICICI) के साथ शुरू किया था| लेकिन आज यह सुविधा सभी बैंकों के पास है|

कितना खर्चा आता है IMPS कराने में (Service Charges for IMPS Transactions)

Up to Rs.10,000 – Rs.2.5

From Rs.10,000 up to Rs.1,00,000 – Rs.5

From Rs.1,00,000 up to Rs.2,00,000 – Rs.15

What is UPI in Hindi (UPI क्या है)

UPI की फुल फॉर्म Unified Payments Interface है| इस सिस्टम को National Payments Corporation
of India ने इजाद किया है|

इस सिस्टम की माध्यम से रियल टाइम (without any delay) में मोबाइल की मदद से एक बैंक अकाउंट से दुसरे बैंक अकाउंट में पैसा ट्रान्सफर किया जा सकता है|

यह IMPS सिस्टम से बेहतर सिस्टम है| जहाँ NEFT, RTGS और IMPS में भुगतान करने के लिए बैंक अकाउंट नंबर, IFSC कोड की आवस्यकता होती है, वहीँ UPI के माध्यम से सिर्फ फ़ोन नंबर और ईमेल के आधार पर भी पेमेंट की जा सकती है|

UPI के माध्यम से पेमेंट करने के लिए आप एंड्राइड मोबाइल फ़ोन पर कोई भी UPI aap डाउनलोड कर लें| जरुरी नहीं जिस बैंक में अकाउंट है उसी बैंक का UPI app हो, जैसे भीम app, paytm आदि

आप यहाँ एक से ज्यादा बैंक अकाउंट रजिस्टर कर सकते हैं|

निम्नलिखित तरीके से UPI के माध्यम से पेमेंट की जा सकती है|

  • वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (Virtual Payment Address (VPA)) के माध्यम से
  • मोबाइल नंबर के माध्यम से
  • अकाउंट नुम्बर ऑफ़ IFSC कोड के माध्यम से
  • आधार नंबर के माध्यम से
  • QR कोड के माध्यम से

Difference Between NEFT RTGS IMPS UPI in Hindi

  NEFT RTGS IMPS UPI
Minimum Transfer Value Rs. 1 Rs. 2 Lakh Rs. 1 Rs. 1
Maximum Transfer Value कोई लिमिट नहीं Rs. 10 Lakh Rs. 2 Lakh  
Speed of Settlement 1 hr Immediately Immediatly Immediatly
Service Avilability आप RTGS सोमवार से शनिवार 8 AM से 6.30 PM के बीच में कभी भी करा सकते हैं| लेकिन 2nd 4th शनिवार, इतवार और बैंक हॉलिडे पर RTGS नहीं की जा सकती है| आप RTGS सोमवार से शनिवार 8 AM से 6.30 PM के बीच में कभी भी करा सकते हैं| लेकिन 2nd 4th शनिवार, इतवार और बैंक हॉलिडे पर RTGS नहीं की जा सकती है| 24/7 24/7
Transaction Fee Up to Rs.10,000 – Rs.2.50

From Rs.10,000 up to Rs.1 lakh – Rs.5

From Rs.1 lakh up to Rs.2 lakh – Rs.15

From Rs.2 lakh up to Rs.5 lakh – Rs.25

From Rs.5 lakh up to Rs.10 lakh – Rs.50

Between Rs.2 lakh up to Rs.5 lakh – Rs.25

From Rs.5 lakh up to Rs.10 lakh – Rs.50

Up to Rs.10,000 – Rs.2.5

From Rs.10,000 up to Rs.1,00,000 – Rs.5

From Rs.1,00,000 up to Rs.2,00,000 – Rs.15

 
Online/Offline Both Both Online Online
Requirement account number, IFSC code account number, IFSC code account number, IFSC code Any one of following

  • वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (Virtual Payment Address (VPA)) के माध्यम से
  • मोबाइल नंबर के माध्यम से
  • अकाउंट नुम्बर ऑफ़ IFSC कोड के माध्यम से
  • आधार नंबर के माध्यम से
  • QR कोड के माध्यम से

यह भी पढ़ें:-

डिबेंचर क्या है, जानिए आसान शब्दों में

शेयर क्या है और इसके प्रकार

डीमेट अकाउंट क्या है और कैसे काम करता है

शेयर मार्किट क्या है और कैसे काम करता है

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है और प्रकार

म्यूच्यूअल में सिप क्या है और फायदे

सेंसेक्स और निफ्टी क्या है और कैसे कैलकुलेट होता है

स्टॉक ब्रोकर क्या है कैसे चुने

सेबी क्या है और इसके कार्य,

म्यूच्यूअल फण्ड में AMC क्या होता है

Default image
Viral Facts India
Articles: 290

One comment

  1. Nice post brother, I have been surfing online more than 3 hours today, yet I never found
    any interesting article like yours. It is pretty worth
    enough for me. In my view, if all web owners and bloggers made good content
    as you did, the internet will be much more useful than ever before.
    There is certainly a lot to know about this issue.

    I love all of the points you’ve made. I am sure this post
    has touched all the internet viewers, its really really good post on building up new weblog.
    Gyan Hi Gyann

Leave a Reply