नवरात्री व्रत के नियम | नवरात्री व्रत विधि | नवरात्री व्रत में इन बातों का रखें ध्यान

Navratri Vrat upvas, fast, ke Niyam (rule) in Hindi | नवरात्री व्रत विधि | नवरात्री व्रत में किन बातों का रखें ध्यान | नवरात्री में क्या करें और क्या न करें

वैसे तो नवरात्री के व्रत में शाकाहारी खाना एक बार ही खाने का प्रावधान है| नवरात्री के व्रत में आप क्या खायें और क्या न खाएं इसका भी अपना एक नियम है|

आपको केवल स्वातिक भोजन ही खाना है, कुछ नवरात्री व्रत के नियम भी हैं जिनका आपको निश्चित रूप से पालन करना ही है|

सबसे पहले बात कर लेते हैं नवरात्री के व्रत में किन बातों का ध्यान रखना है और क्या परहेज रखना है| नवरात्र में आप क्या करें और क्या न करें इसकी चर्चा पहले कर लेते हैं|

इसके बाद नवरात्री के व्रत के व्यंजन और रेसिपी विस्तार से चर्चा करेंगे|

नवरात्री व्रत के नियम

Navratri Vrat ke Niyam in Hindi

नवरात्री व्रत के नियम

नवरात्री में व्रत रखने के अपने कुछ नियम है| यह नियमों का पालन अनिवार्य है अन्यथा आपको नवरात्र के व्रत का लाभ नहीं मिलेगा|

यह नियम निम्न प्रकार हैं|

1. नवरात्री में सेविंग न करें

नवरात्री में नौ दिन का व्रत रखने वालों को सेविंग नहीं करनी चाहिए| बच्चों का मुंडन भी इन दिनों में नहीं कराना चाहिए|

2. नाख़ून न काटें

इन दिनों नाख़ून काटना भी वर्जित बताया गया है|

3. घर को बंद करके नहीं जाना चाहिए

नवरात्रों के दिनों में घर को बंद करके नहीं जाना चाहिए| क्योंकि इन दिनों घर में माता की अखंड ज्योंति जलती है और माता रानी स्वयं घर में निवास करती हैं| इसलिए घर को सूना और अकेला छोड़ के नहीं जाना चाहिए|

4. मांसाहार और शराब का सेवन न करें

नवरात्री के दिनों में शराब और मासाहार का सेवन नहीं करना चाहिए|

5. प्याज और लहसुन का सेवन भी वर्जित है

नवरात्री में किसी भी प्रकार का तामसिक भोजन न करें| तामसिक भोजन ऐसा भोजन होता हैं जिससे आलस, विषय विकार और वासना के विचार उत्पन्न होते हैं| इन नौ दिनों हमें अपने शरीर के साथ साथ मन को भी शुद्ध रखना है|

6. काले कपड़े और चमड़े का सामान प्रयोग न करें

नौ दिन के व्रत में काले कपडे न पहले और चमड़े की बेल्ट, चप्पल जूते बैग जैसी वस्तुओं का प्रयोग न करें|

7. अनाज का सेवन पूरी तरह वर्जित है

नवरात्री के व्रत में नौ दिन तक अनाज और साधारण नमक का प्रयोग न करें| आप चाहे तो सेंधा नमक प्रयोग कर सकते हैं|

व्रत में कुट्टू और सिंघाड़े का आटा, साबूदाना, फल और दूध से बने उत्पाद का ही प्रयोग करें| अन्न और अनाज नवरात्री
के व्रत पूरा हो जाने के बाद

8. तम्बाकू का सेवन न करें

इन 9 दिन में तम्बाकू का सेवन नहीं करना चाहिए| इसके अलावा निम्बू भी नहीं काटना चाहिए|

9. दिन में सोना है वर्जित

इन नौ दिन दिन में सोना धर्म ग्रंथों में वर्जित बताया गया है|

10. शारीरिक सम्बंध बनाना है वर्जित

यदि आपने माता का व्रत रखा है और शादी शुदा हैं, तो शारीरिक सम्बन्ध न बनाए|

11. रात्रि में करें माँ दुर्गा की पूजा

नवरात्री में माँ दुर्गा की पूजा रात्रि को करनी चाहिए क्योंकि देवी रात्रि स्वरुप है और भगवान् शिव दिन के स्वरुप| और इस पर्व का नाम ही है नवरात्र और इन दिनों रात्रि में माँ दुर्गा की पूजा का अपन महत्त्व है|

इन नौ दिनों सुबह या शाम को दुर्गा सप्तशती का पाठ करना चाहिए|

12. इन नौ दिन जमीन पर सोयें

जमीन पर सोयें और ब्रह्मचर्य का पालन करें|

13. मन और वाणी में उदारता का भाव रखें

मन में इन दिनों क्षमा, दया और उदारता का भाव रखें|

14. दुर्गा सप्तशती का पाठ करें

इन नौ दिन सुबह या शाम माँ दुर्गा के स्थापना स्थल पर माँ दुर्गा सप्तशती का पाठ करना चाहिए|

नवरात्री व्रत की विधि

व्रत में एक ही बार खाने का नियम है और खाना आप दोपहर और शाम को खा सकते हैं|

खाने में आपको केवल सात्विक भोजन ही करना है| आप दूध से बने व्यंजन,दही, कुट्टू और सिंघाड़े के आते से बने पकवान, साबूदाने की खीर आदि खा सकते हैं|

ज्यादा जानकारी के लिए आप हमार यह पोस्ट पढ़ लें :- नवरात्री में व्रत के खाने की सम्पूर्ण जानकारी

यह भी पढ़ें:-

नवरात्री व्रत का खाना ( सम्पूर्ण जानकारी )

नवरात्री व्रत कथा | श्री दुर्गा नवरात्र व्रत कथा

नवरात्री पूजा विधि और सामग्री की सम्पूर्ण जानकारी

नवरात्री का महत्त्व ( नवरात्रि पूजा के नौ दिन ही क्यों )

नवरात्री क्यों मनाते हैं जाने असली कारण

नवरात्री 9 देवियों के नाम चित्र सहित

Share your love
Default image
Viral Facts India
Articles: 330

Leave a Reply

close