Lok sabha aur Rajya sabha mein kya antar hai

Share your love

क्या आप सर्च कर रहे है की लोकसभा और राज्य सभा में क्या अन्तर है यदि हां तो आप सही जगह पर आये है इस पोस्ट में हम डिटेल में discuss करेंगे की लोक सभा (lok sabha) और राज्य सभा ( sabha) में या अंतर है|

इसके साथ-साथ हम यह भी चर्चा करेंगे की विधान सभा क्या होता है|

भारतीय संसदीय प्रणाली में संसद के दो सदन हैं:- लोकसभा जिसे ‘आम जनता का सदन’ या संसद के निचले सदन के रूप में जाना जाता है और राज्यसभा जिसे ‘राज्यों का परिषद्’ या संसद के ऊपरी सदन के रूप में जाना जाता है|

लोकसभा वास्तविक कार्यकारी है जो प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश में शासन चलाता है|

लोक सभा और राज्य सभा में क्या अंतर है (टेबल के साथ)

s.no.लोक सभा राज्य सभा
1.इसके मेंबर्स आम जनता द्वारा एडल्ट वोटिंग की प्रोसेस के अंडर चुने जाते हैं|इसके मेंबर्स राज्य विधान सभा के एलेक्टेड मेंबर्स द्वारा चुने जाते हैं|
2.लोक सभा का कार्यकाल(tenure) 5 वर्षों (years)का होता है|
यह एक परमानेंट हाउस है जिसके एक-तिहाई (A third) मेम्बर प्रत्येक (each) दो साल बाद रिटायर हो जाते हैं|
3.इसकी अधिकतम (each) मेंबर्स की संख्या 552 है|
इसकी अधिकतम (each) मेंबर्स की संख्या 250 है|
4.मनी बिल को केवल लोकसभा में ही पेश किया जा सकता है। यह सदन(house) कंट्री में गवर्नमेंट चलाने के लिए धन आवंटित (funds allocated) करता है|
मनी बिल के रिलेशन में राज्यसभा को अधिक पावर्स प्राप्त नहीं है|
5.यूनियन काउंसिल of मिनिस्टर्स सामूहिक (collective) रूप से लोकसभा के प्रति रेस्पोंसिबिलिटी होती है|
यूनियन काउंसिल of मिनिस्टर्स सामूहिक (collective) रूप से राज्यसभा के प्रति रेस्पोंसिबिलिटी नहीं होती है|
6.लोकसभा की मीटिंग्स की अध्यक्षता (presidency) लोकसभा अध्यक्ष (speaker) करते हैं|
राज्यसभा की मीटिंग्स की अध्यक्षता (presidency) उप- राष्ट्रपति (Vice President) करते हैं |
7.इसे निचला सदन (lower house) या आम जनता का सदन (general public house) कहा जाता है|
इसे ऊपरी सदन (upper house) या राज्यों की परिषद् (council of states) कहा जाता है|
Share your love
Default image
Vanshita Tiwari
Articles: 20

Leave a Reply

close