Jamun sirka (vinegar) recipe in Hindi | जामुन का सिरका बनाने की विधि और फायदे

0
160
jamun sirka recipe and benefits in hindi

Jamun sirka (vinegar) recipe and it benefits in Hindi | जामुन का सिरका बनाने की विधि और इसके फायदे

जामुन एक गर्मी का फल है| आम के मौसम में जून जुलाई के महीने में आपको यह बाज़ार में देखने को मिल जाएगा| यह फल काले बेंगनी रंग का होता है| इसका स्वाद खट्टा और कसेला होता है इसलिए इसे हमेशा नमक के साथ ही खाना चाहिए|

यह फल पूरे 12 महीने उपलव्ध नहीं रहता है| लेकिन आप इसका सिरका बना के प्रयोग कर सकते हैं| सिरका जितना पुराना होगा उतना ही ज्यादा फायेदेमंद होता है|

यहाँ click करके जाने जामुन के 22 मजेदार और कुछ रोचक तथ्य

दोस्तो आइये जानते हैं इसे आप घर पर कैसे आसानी से बना सकते हैं|

Jamun sirka recipe in hindi

जामुन सिरका Ingredients:-

जामुन के फल – 1 किलो
सुखी लाल मिर्च – 6
नमक – जितना आवश्यक हो
पानी – आवस्यकतानुसार

दूसरी सामग्री:-

  1. मिटटी का बर्तन – जामुन को रखने के लिए
  2. सूती कपडा – बर्तन को ऊपर से बांधने के लिए
  3. कांच का बर्तन – सिरका रखने के लिए

जामुन का सिरका बनाने के तरीका:-

जामुन के पके हुए फलों को साफ़ पानी से धो लें| इसके बाद इसमें आवस्यकतानुसार नमक मिला कर मिटटी के बर्तन में रख दें|

इस मिटटी के बर्तन के मुह को सूती कपडे से ढक कर धुप में रख दें| इस मिटटी के बर्तन को एक महीने तक धुप में बराबर रखना है|

एक महीने के बाद आप जामुन का गुदा बनाकर सूती कपडे में छान कर इसका रस निकालकर कांच के बर्तन में रख दें और इसमें 3-4 सुखी लाल मिर्च डाल दे| ये लो जी आपका जामुन का सिरका तैयार है|

Jamun sirka benefits in Hindi

जामुन का सिरका शीतल, एंटीबायोटिक, रुचिकर होता है|

  1. जामुन का सिरका पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है|
  2. पेट में दर्द और मरोड़ होने पर जामुन का सिरका फायदेमंद हैं|
  3. यकृत (लीवर) के विकारों में भी जामुन का सिरका लाभप्रद है|
  4. मधुमेह (शुगर) के मरीजों के लिए तो यह रामबाण है| जामुन का सिरका सुबह शाम लेने से शत प्रतिशत लाभ होता है|
  5. पेट के अलसर में भी सिरका बहुत फायेदेमंद है|
  6. जामुन का सिरका वीर्य शोधक है| जिनके sperms कम हैं या कमजोर हैं उन्हें जामुन कर सिरका लेने से जरूर फायदा होता है
  7. गले को रोगों जैसे खांसी और कफ में भी जामुन का सिरका बड़ी तेजी से फायदा देता है|
  8. बच्चों को यदि उल्टी और दस्त हो जाए तो बच्चों को जामुन का सिरका देने से फायदा होता है|
  9. मुंह के रोग जैसे मसूड़ों की सुजन और छालों में भी सिरका फयदे मंद है| जामुन का सिरका सुबह शाम लेने से मसूड़ों के दर्द और रो छालों में लाभ आसानी से हो जाता है|
  10. जामुन का सिरका सोंदर्यवर्धक भी है| समयानुसार इसका सेवन करने से स्किन का ग्लो बढ़ता है|
  11. तिल्ली (spleen) की सुजन में तो यह रामबाण की तरह काम करता है| और तिल्ली की सुजन को बहुत ही कम समय में दूर कर देता है|

दोस्तो, आपको जामुन का सिरका बनाने की विधि और फायदे (Jaamun ka sirka recipe and it benefits in Hindi) आपको जरूर पसंद आये होंगे|

आपके कोई प्रश्न हों तो आप कमेंट में पूछ सकते हैं या [email protected] पर मेल कर सकते हैं|

यदि आपके पास कोई सुझाव हो तो आप हमें अवगत जरूर कराएँ|

आपके अमूल्य सुझाव ही viralfactsindia.com की सफलता की कुंजी है|

यह भी पढ़े:-

जामुन के फल पत्ते और बीज (गुठली) के आयुर्वेदि फायदे

60 Amazing facts about India with solid Proof | भारत के कुछ मजेदार रोचक तथ्य

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here