भारत की प्रथम महिला आईपीएस कौन थी | Who was the First woman IPS of India in Hindi

भारत की प्रथम (पहली) महिला आईपीएस अफसर (का नाम) कौन थी | Who was the First woman (Female) IPS officer name of India in Hindi

दोस्तो, महिलाओं को उचित मार्गदर्शन और अवसर उपलब्ध कराएं जाएँ तो महिलाओं की प्रतिभा भी पुरुषों से कम नहीं है| पुरे विश्व में महिलाओं ने समाज, राजनीती, स्वास्थय के क्षेत्र में अपने योगदान से कीर्तिमान स्थापित किये हैं|

आज बात कर रहे हैं भारत की प्रथम महिला आईपीएस अफसर की जिन्होंने प्रधानमंत्री की गाड़ी का भी चालान काट दिया था|

जी हाँ आज हम आपको भारत की प्रथम महिला आईपीएस अफसर का नाम बता रहे हैं और यह किस बैच की आईपीएस अफसर थी इसके बारे में ही बताएँगे

आईपीएस अफसर रहते हुए इन्होने सिस्टम में कई अच्छे बदलाव भी किये| इन्हें पुलिसिया विभाग में एक कद्दावर अफसर के रूप में जानी जाती हैं|

भारत की प्रथम महिला आईपीएस कौन थी

Who was the First woman IPS of India in Hindi

भारत की प्रथम महिला आईपीएस अफसर कौन थी

जी हाँ भारत की प्रथम महिला आईपीएस अफसर किरण बेदी हैं आपने नाम तो सुना ही होगा| माना जाता है एक बार प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की कार सड़क पर गलत जगह लगी हुई थी|

इन्होने उनकी गाड़ी को टोह करवा लिया और चालान भी काटा ऐसी धाकड़ पुलिस अफसर थी किरण बेदी|

आइये संक्षिप्त में इनका जीवन परिचय पढ़ लेते हैं|

क्रमांकParticularDetail
1. पूरा नाम किरण पेशावरिया
2. जन्म दिनांक 9 जून 1949
3. जन्म स्थान अमृतसर पंजाब भारत
4. पिता प्रकाश लाल
5. माता प्रेम लता
6. राष्ट्रीयता भारतीय
7. शिक्षा बी.ए इंग्लिश, 1968, एम्.ए राजनीती शास्त्र, 1970
एल.एल.बी, 1988, पी.एच.डी, 1993
8. राजनितिक पार्टी बीजेपी
9. पति ब्रिज बेदी
10. बच्चे साइना (सुकृति)
11. वेबसाइट किरणबेदी.कॉम
12.इंडियन पुलिस सर्विस1972 – 2007
13.राज्यपालपुदुचेरी 29 मई 2016 – अब तक

किरण बेदी का जन्म 9 जून 1949 को पंजाब अमृतसर में हुआ था| 1972 में इन्होने अपनी पुलिस ट्रेनिंग शुरू की और इनकी पहली पोस्टिंग दिल्ली चाणक्यपुरी में हुई थी|

इसके बाद इन्हें पश्चिमी दिल्ली में ट्रान्सफर कर दिया गया|

इसके बाद इन्हें ट्रैफिक पुलिस ऑफिसर की पोस्ट दी गई और इन्होने ट्रैफिक पुलिस में कई सुधार किये|

पुलिस विभाग में अपने अभूतपूर्व योगदान के लिए इन्हें 1979 में प्रेसिडेंट्स पुलिस मैडल से भी सम्मानित किया गया था|

मई 1993 में इन्हें तिहाड़ जेल में IG का पद भार दिया गया| इन्होने तिहाड़ में कई सुधार कार्य किये जिसके लिए इन्हें ramon magsayasay अवार्ड से 1994 में सम्मानित किया गया|

कुल 35 साल पुलिस विभाग में अपनी सेवा देने के बाद इन्होने 2007 में स्वेक्षा से रिटायरमेंट ले लिया और सामाजिक कार्यों में लग गई|

अभी हाल फिलहाल इन्होने बीजेपी की सदस्य हैं और पुदुचेरी की राज्यपाल हैं 2016 से

यह भी पढ़ें

भारत की प्रथम महिला आईएस अफसर कौन थी

भारत की प्रथम महिला शिक्षक कौन थी

भारत की प्रथम महिला डॉक्टर कौन थी

भारत की प्रथम महिला मुख्यमंत्री कौन थी

भारत की प्रथम महिला मेयर कौन थी

आशा करते हैं भारत की प्रथम महिला आईपीएस अफसर की जानकारी से ज्ञानवर्धन अवश्य हुआ होगा यदि आपको हमारी कोशिश पसंद आई हो तो इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया में अवश्य साझा करें|

Share your love
Default image
Viral Facts India
Articles: 340

Leave a Reply

close