भारत में कुल कितने क्रिकेट स्टेडियम हैं? How many stadium are in India in Hindi?

भारत के प्रत्येक राज्य में कितने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं | How many International cricket stadium are in India in Hindi

दोस्तो, भारत का राष्ट्रीय खेल तो वैसे हॉकी है| लेकिन क्रिकेट यहाँ सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है| इसलिए भारत में क्रिकेट स्टेडियम भी पुरे विश्व में सबसे ज्यादा है| इसके अलावा अभी भविष्य में इनकी संख्या और बढ़ने वाली है|

आज की चर्चा में हम बात करेंगे भारत में कुल कितने क्रिकेट स्टेडियम हैं| और हाँ इसकी जानकारी आपको स्टेट और शहर के साथ देंगे|

दिल्ली में कितने क्रिकेट स्टेडियम हैं…?

दिल्ली में कुल 2 क्रिकेट स्टेडियम हैं| जिसमें से एक एक्टिव है और एक इनएक्टिव

1. अरुण जेटली स्टेडियम:-

इस स्टेडियम की स्थापना 1883 में हुई थी| यह दिल्ली के बहादुर शाह जफ़र मार्ग पर, कोटला फोर्ट के पास स्थित है| इसी फोर्ट के नाम पर इसका नाम पहले फिरोज शाह कोटला स्टेडियम रखा गया था|

लेकिन मोदी सरकार ने 12 सितम्बर 2019 को अरुण जेटली की स्मृति में इस स्टेडियम का नाम बदलकर अरुण जेटली स्टेडियम कर दिया|

यह स्टेडियम एक्टिव है और इस स्टेडियम में बराबर इंटरनेशनल क्रिकेट मैच होते रहते हैं|

अब तक इसमें 34 टेस्ट्स, 25 वन डे और 6 टी 20 हो चुके हैं|

इस ग्राउंड पर फर्स्ट मैच 10 नवम्बर 1948.

2. जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम

यह स्टेडियम दिल्ली में लोधी रोड पर स्तिथ है| इस स्टेडियम का नामकरण भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम के नाम पर रखा गया था| वैसे तो इस स्टेडियम को फुटबॉल और एथलेटिक्स के लिए बनाया गया था|

लेकिन इसमें 2 क्रिकेट मैच वन डे भी हो चुके हैं| हालाँकि काफी समय से इसमें कोई क्रिकेट मैच नहीं हुआ है| और मुख्यतः इस स्टेडियम में कल्चरल प्रोग्रम्म और दुसरे स्पोर्ट्स ही होते हैं|

कह सकते हैं की इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए यह स्टेडियम अभी कार्यरत नहीं है|

उत्तर प्रदेश (यूपी) में कितने क्रिकेट स्टेडियम हैं…?

उत्तर प्रदेश में अभी 5 स्टेडियम हैं| जिनमें

1. ग्रीन पार्क स्टेडियम

यह स्टेडियम उत्तरप्रदेश के कानपूर में स्तिथ है| इसका पुराना नाम मोदी स्टेडियम था| यह स्टेडियम अभी एक्टिव है और यहाँ इंटरनेशनल क्रिकेट मैच होते रहते हैं|

2. ग्रेअटर नॉएडा स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स

यह स्टेडियम अभी एक्टिव है|

यह इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम यूपी के ग्रेअटर नॉएडा में स्तिथ है| यहाँ पहला मैच 8 मार्च 2017 को हुआ था| इसमें अभी तक 5 वन डे और 6 टी 20 हो चुके हैं|

इसका पुराना नाम शहीद विजय सिंह पथिक काम्प्लेक्स था|

3. इकाना क्रिकेट स्टेडियम

यह स्टेडियम अभी इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए एक्टिव है| यह उत्तर प्रदेश के लखनऊ में स्तिथ है| इस स्टेडियम में पहला मैच 6 नवम्बर 2018 को हुआ था|

इस स्टेडियम में अब तक 1 टेस्ट मैच, 3 वन डे और 4 टी 20 हो चुके हैं|

4. यूनिवर्सिटी ग्राउंड

यह स्टेडियम भी लखनऊ में स्तिथ है| लेकिन यहाँ अब इंटरनेशनल मैच नहीं होते हैं| इसमें एक इंटरनेशनल टेस्ट मैच हुआ था उसके बाद इसमें अभी तक कोई इंटरनेशनल मैच नहीं हुआ है|

5. के डी सिंह बाबु स्टेडियम

यह स्टेडियम भी लखनऊ में स्तिथ है| लेकिन इस स्टेडियम में अब इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं हो रही है| इसमें अभी तक 1 टेस्ट मैच और 1 वन डे हुआ है|

हरियाणा में कितने क्रिकेट स्टेडियम हैं…?

हरियाणा काफी बड़ा राज्य है| लेकिन यहाँ केवल एक ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है|

1. नाहर सिंह स्टेडियम:-

नाहरसिंह स्टेडियम हरियाणा फरीदाबाद में स्तिथ है| इसमें अभी तक 8 वन डे हो चुके हैं| लेकिन अभी यह इंटरनेशनल क्रिकेट काफी समय से नहीं हो रही है| इस स्टेडियम में सबसे पहला मैच 19 जनवरी 1988 को हुआ था|

पंजाब में कितने क्रिकेट स्टेडियम हैं…?

पंजाब में 3 अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं| जिसमें से एक एक्टिव है और दो इनएक्टिव है|

1. पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (आई एस बिंद्रा स्टेडियम):-

यह स्टेडियम पंजाब के मोहाली में स्तिथ है| इस स्टेडियम में कई अन्तराष्ट्रीय मैच हो चुके हैं और बहुत प्रसिद्द स्टेडियम है| यह स्टेडियम अभी एक्टिव है|

2. गाँधी स्टेडियम:-

यह स्टेडियम पंजाब के जालंधर में स्तिथ है| इसमें बहुत ही कम मैच हुए हैं| और एक तरह से यह मैदान इनएक्टिव है| काफी समय से यहाँ कोई अंतर्राष्ट्रीय मैच नहीं हुआ है|

3. गाँधी स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ग्राउंड:-

यह पंजाब के अमृतसर में स्तिथ है| यहाँ अभी तक केवल 2 अन्तराष्ट्रीय वन डे हुए हैं| पहला मैच यहाँ 12 सितम्बर 1982 को हुआ था|

आंद्र प्रदेश में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहाँ 3 स्टेडियम स्तिथ है जिसमें से एक एक्टिव है और दो इनएक्टिव है.

1. Dr. Y. S. राजशेखर रेड्डी इंटरनेशनल स्टेडियम :-

यह स्टेडियम विशाखापतनम में स्तिथ है इसमें 13 मैच हो चुके है जिनमे से 2 test, 9 OD और 2 T20 है यहाँ पहला मैच 5 April 2005 में हुआ था, अभी यह उपयोग में है

2. इंदिरा प्रियादार्शिनी स्टेडियम :-

यह स्टेडियम विशाखापतनम में स्तिथ है इसमें 5 OD मैच हो चुके है यहाँ पहला मैच 10 December 1988 में हुआ था और यह अभी उपयोग में नहीं है.

3. इंदिरा गाँधी स्टेडियम

यह स्टेडियम विजयवाडा में स्तिथ है, यह केवल एक ही मैच ( 24 November 2002 ) हुआ था.

असम प्रदेश में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहाँ 2 स्टेडियम स्तिथ है जिसमें से एक एक्टिव है और एक इनएक्टिव है.

1. बर्सपारा स्टेडियम :-

यह स्टेडियम गुवाहाटी में स्तिथ है आधिकारिक तौर पर डॉ भूपेन हजारिका क्रिकेट स्टेडियम के नाम से जाना जाता है और असम क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है, यहां खेला गया पहला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच भारत और ऑस्ट्रेलिया T20I के बीच था। इसमें 3 मैच हो चुके है जिनमे से 1 OD और 2 T20 है यहाँ पहला मैच 10 October 2017 में हुआ था, अभी यह उपयोग में है

2. नेहरु स्टेडियम :-

यह स्टेडियम गुवाहाटी में स्तिथ है इसमें 14 OD मैच हो चुके है यहाँ पहला मैच 17 December 1983 में हुआ था, अभी यह उपयोग में नहीं है.

बिहार में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहाँ 1 स्टेडियम स्तिथ है जिसका नाम मोइन-उल-हक स्टेडियम है। बहुउद्देश्यीय स्टेडियम ने 1996 क्रिकेट विश्व कप से एक सहित तीन एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय (ODI) मैचों की मेजबानी की है। स्टेडियम की क्षमता 25,000 लोगों की है। इसका उपयोग क्रिकेट और एसोसिएशन फुटबॉल के लिए किया जाता है। यह बिहार रणजी टीम का घरेलू मैदान है। सरकार ने स्टेडियम के विकास का प्रस्ताव दिया है, जिसमें बैठने की क्षमता को बढ़ाकर 42,500 कर दिया गया है। इसका रखरखाव बिहार क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा किया जाता है। बिहार रणजी टीम इस मैदान पर इस समय कई रणजी मैच खेल चुकी है और यहाँ पहला मैच 15 November 1993 में हुआ था|

गोवा में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

पंडित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है जिसका उपयोग ज्यादातर मडगांव में स्थित फुटबॉल मैचों के लिए किया जाता है। इस स्थल का उपयोग अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल और क्रिकेट मैचों दोनों की मेजबानी के लिए किया गया है। यह गोवा का एकमात्र अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम है और इसमें 19,000 लोगों के बैठने की क्षमता है। क्रिकेट में इसने 9 एकदिवसीय मैचों की मेजबानी की है। यह स्थल 1989 में स्थापित किया गया था और इसका स्वामित्व और संचालन गोवा के खेल प्राधिकरण के पास है। यह वर्तमान में इंडियन सुपर लीग क्लब FC गोवा का घरेलू स्टेडियम है।

गुजरात में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहाँ 5 स्टेडियम स्तिथ है

1. नरेन्द्र मोदी स्टेडियम :-

नरेंद्र मोदी स्टेडियम, जिसे आमतौर पर मोटेरा स्टेडियम के नाम से जाना जाता है, अहमदाबाद, गुजरात, भारत में सरदार पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव-8 के अंदर स्थित एक क्रिकेट स्टेडियम है। यह 132000 दर्शकों की बैठने की क्षमता के साथ दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम और दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है। इसने 1987, 1996 और 2011 क्रिकेट विश्व कप के दौरान मैचों की मेजबानी की है। 2020 तक स्टेडियम ने 12 टेस्ट, 23 एकदिवसीय और 1 टी२० मैचों की मेजबानी की है।
24 फरवरी 2021 को भारत के वर्तमान प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के सम्मान में स्टेडियम का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम कर दिया गया, जो गुजरात के मूल निवासी और पूर्व मुख्यमंत्री भी हैं। इसने 24 फरवरी 2021 को भारत और इंग्लैंड के बीच अपने पहले गुलाबी गेंद टेस्ट मैच की मेजबानी की।

2. सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम

सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम को खंडेरी क्रिकेट स्टेडियम के रूप में भी जाना जाता है, यह राजकोट में स्तिथ है। यह गुजरात का पहला सौर ऊर्जा से चलने वाला स्टेडियम है।

3. सरदार वल्लभभाई पटेल स्टेडियम :-

सरदार वल्लभभाई पटेल स्टेडियम गुजरात के नवरंगपुरा इलाके में स्थित है। इसे कभी-कभी गुजरात स्टेडियम के स्पोर्ट्स क्लब के रूप में जाना जाता है।

4. माधवराव सिंधिया क्रिकेट ग्राउंड :-

माधवराव सिंधिया क्रिकेट ग्राउंड इसे म्युनिसिपल ग्राउंड या रेसकोर्स ग्राउंड कॉर्पोरेशन ग्राउंड के नाम से भी जाना जाता है और गुजरात के राजकोट में स्थित है। इस स्टेडियम में दर्शकों की क्षमता 28,000 है और यह अंतरराष्ट्रीय और आईपीएल मैचों की मेजबानी करता है।

5. IPCL स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ग्राउंड :-

इसे रिलायंस स्टेडियम या इंडियन पेट्रोकेमिकल्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स ग्राउंड के नाम से भी जाना जाता है और यह गुजरात के वडोदरा में स्थित है। स्टेडियम का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास है स्टेडियम ने 1994 के बाद से 10 एकदिवसीय मैचों की मेजबानी की है,

हिमाचल प्रदेश में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहा केवल 1 ही स्टेडियम स्तिथ है जिसका नाम है हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम और यह हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला जिले में स्थित एक सुरम्य क्रिकेट स्टेडियम है, जिसे एचपीसीए स्टेडियम के रूप में संक्षिप्त किया गया है। धर्मशाला शहर को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तिब्बत के दलाई लामा के घर के रूप में जाना जाता है।

झारखण्ड में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहा पर 2 स्टेडियम स्तिथ है

1. झारखण्ड स्टेटस क्रिकेट एसोसिएशन इंटरनेशनल स्टेडियम

इसे JSCA इंटरनेशनल स्टेडियम कॉम्प्लेक्स के नाम से भी जाना जाता है और यह भारत के पूर्वी शहर झारखंड के रांची में स्थित है और इसकी क्षमता 50,000 है|

2. कीनन स्टेडियम

यह स्टेडियम जमशेदपुर में एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम और एक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है। यह वर्तमान में ज्यादातर क्रिकेट और फुटबॉल मैचों के लिए उपयोग किया जाता है। इसे तीरंदाजी के स्थल के रूप में भी जाना जाता है। स्टेडियम का नाम टाटा स्टील के पूर्व महाप्रबंधक जॉन लॉरेंस कीनन के नाम पर रखा गया है। इसका स्वामित्व टाटा स्टील के पास है। इसकी क्षमता 19 हजार लोगों की है।

1939 में बनने के बाद से इस मैदान ने बिहार के लिए अब झारखंड क्रिकेट टीम के लिए रणजी ट्रॉफी मैचों की मेजबानी की है। इस स्थल ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच दिसंबर 1983 में आयोजित किया था जब वेस्टइंडीज ने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में भारत को हराया था।
2002/03 में वेस्ट इंडीज मैच के दौरान भीड़ के हिंसक होने और मैदान पर पटाखे फेंकने के लिए यह स्टेडियम बदनाम हो गया।

कर्नाटक में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहाँ 1 स्टेडियम है जिसका नाम M. चिन्नास्वामी स्टेडियम है सुरम्य कब्बन पार्क, क्वीन्स रोड, कब्बन और अपटाउन एमजी रोड से घिरा यह पांच दशक पुराना स्टेडियम बैंगलोर शहर के बीचों-बीच स्थित है, जिसमें बैठने की क्षमता 40,000 है|यह दुनिया का पहला क्रिकेट स्टेडियम है जिसमें स्टेडियम को चलाने के लिए आवश्यक बिजली का एक बड़ा हिस्सा उत्पन्न करने के लिए सौर पैनलों का उपयोग किया जाता है।

केरला में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहा पर 3 स्टेडियम स्तिथ है

1. ग्रीनफील्ड इंटरनेशनलस्टेडियम :-

स्पोर्ट्स हब जिसे अब ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम के रूप में जाना जाता है और जिसे पहले त्रिवेंद्रम इंटरनेशनल स्टेडियम के नाम से जाना जाता था केरल में एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है जिसका उपयोग मुख्य रूप से फुटबॉल और क्रिकेट के लिए किया जाता है। यह भारत का पहला DBOT (डिजाइन, बिल्ड, ऑपरेट और ट्रांसफर) मॉडल आउटडोर स्टेडियम है। ग्रीनफील्ड स्टेडियम 7 नवंबर 2017 को भारत का 50वां अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्थल बन गया, जब इसने न्यूजीलैंड के खिलाफ एक टी20ई की मेजबानी की। 1 नवंबर 2018 को, इस स्थल ने अपने पहले एकदिवसीय मैच की मेजबानी की।

2. यूनिवर्सिटी स्टेडियम :-

यूनिवर्सिटी स्टेडियम केरल के तिरुवनंतपुरम शहर में स्थित एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है और इसका उपयोग मुख्य रूप से फुटबॉल और एथलेटिक्स के लिए भी किया जाता है। स्टेडियम केरल विश्वविद्यालय के स्वामित्व में है और 1940 में हैदराबाद की तत्कालीन रियासत के दीवान सर मिर्जा द्वारा खोला गया था। स्टेडियम की क्षमता 20,000 है। 2011-2012 आई-लीग सीज़न के लिए स्टेडियम चिराग यूनाइटेड क्लब का घरेलू मैदान था।

3. जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम :-

जवाहरलाल नेहरू अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम, जिसे स्थानीय रूप से कलूर स्टेडियम के नाम से जाना जाता है, केरल के कोच्चि में एक बहुउद्देश्यीय अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम है। स्टेडियम की क्षमता 60500 है। इसकी विशिष्ट वास्तुकला के कारण स्टेडियम को व्यापक रूप से दुनिया के सबसे शोर वाले फुटबॉल स्टेडियमों में से एक माना जाता है। स्टेडियम ने कई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और फुटबॉल मैचों की मेजबानी की है, लेकिन 2014 के बाद आईएसएल के कारण कोई क्रिकेट मैच नहीं हुआ। स्टेडियम का विस्तृत मैदान शहर में महत्वपूर्ण प्रदर्शनियों, सिनेमा कार्यक्रमों और राजनीतिक रैलियों के लिए स्थल के रूप में कार्य करता है। 

मध्य प्रदेश में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहा 3 स्टेडियम है

1. होलकर स्टेडियम :-

होल्कर क्रिकेट स्टेडियम इंदौर में स्थित है। इसे पहले महारानी उशराजे ट्रस्ट क्रिकेट ग्राउंड के नाम से जाना जाता था। लेकिन 2010 में, मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ने इसका नाम बदलकर इंदौर राज्य पर शासन करने वाले मराठों के होल्कर वंश के नाम पर रखा। इसमें करीब 30,000 दर्शकों के बैठने की क्षमता है। यह रात के मैचों के लिए फ्लड लाइट से भी सुसज्जित है। वीरेंद्र सहवाग ने इस मैदान पर 219 रन का तीसरा सर्वोच्च एकदिवसीय स्कोर दर्ज किया। स्टेडियम को भारत के छह नए टेस्ट स्थलों में से एक के रूप में चुना गया था।

2. नेहरु स्टेडियम :-

भारत के इंदौर में स्थित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम 25,000 लोगों की क्षमता वाला क्रिकेट, फुटबॉल, खो-खो और बास्केटबॉल के लिए उपयोग किया जाने वाला एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है। 

3. कप्तान रूप सिंह स्टेडियम :-

कप्तान रूप सिंह स्टेडियम मध्य प्रदेश के ग्वालियर मे है। स्टेडियम ने 12 एकदिवसीय मैचों की मेजबानी की है, पहला मैच 22 जनवरी 1988 को भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेला गया था। इसमें 18,000 लोग बैठ सकते हैं। यह मूल रूप से महान भारतीय हॉकी खिलाड़ी रूप सिंह के नाम पर एक हॉकी स्टेडियम था।

ओडिशा में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहाँ 1 स्टेडियम स्तिथ है जिसका नाम बाराबती स्टेडियम है इसका उपयोग ज्यादातर क्रिकेट और फुटबॉल के लिए किया जाता है, और कभी-कभी संगीत और हॉकी के लिए भी| यह कटक में स्थित है। बाराबती स्टेडियम भारत के पुराने मैदानों में से एक है, जिसने अपने पहले अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी करने से पहले एमसीसी, वेस्ट इंडीज टीम और ऑस्ट्रेलियाई समेत कई टूरिंग पक्षों की मेजबानी की है। इसने 2013 महिला क्रिकेट विश्व कप की भी मेजबानी की। क्रिकेट और फुटबॉल स्थल दिन और रात के खेल के लिए फ्लडलाइट से सुसज्जित है और एकदिवसीय मैचों के लिए एक नियमित स्थल है।

राजस्थान में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहा 2 स्टेडियम स्तिथ है

1. सवाई मानसिंह स्टेडियम :-

सवाई मानसिंह स्टेडियम जयपुर में है। इसका नाम जयपुर रियासत के तत्कालीन शासक सवाई मान सिंह II के नाम पर रखा गया था। यह PKMB के एक कोने में स्थित है। स्टेडियम में 30,000 सीटें हैं। 19 अगस्त 2017 तक इसने 1 टेस्ट और 19 एकदिवसीय मैचों की मेजबानी की है।

2. बरकतुल्लाह खान स्टेडियम :-

बरकतुल्लाह खान स्टेडियम जोधपुर स्थित है। यह वर्तमान में ज्यादातर क्रिकेट के लिए उपयोग किया जाता है।
स्टेडियम की स्थापना 1986/87 में हुई थी| स्टेडियम की वर्तमान क्षमता 40,000 लोगों की है। यह एक दिवसीय की मेजबानी करने वाला भारत का 35 वां मैदान बन गया जबकि जोधपुर वनडे की मेजबानी करने वाला भारत का 31 वां मैदान बन गया। 

महाराष्ट्र में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यहा पर कुल 6 स्टेडियम है

1. ब्रबौरने स्टेडियम :-

ब्रेबोर्न स्टेडियम भारतीय मुंबई में एक क्रिकेट मैदान है जो आईपीएल फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस का घरेलू मैदान था। यह खेल मैचों के लिए 50,000 लोगों को समायोजित कर सकता है। यह मैदान क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया (सीसीआई) के स्वामित्व में है। वानखेड़े स्टेडियम के निर्माण के बाद ब्रेबोर्न का उपयोग टेस्ट मैचों के लिए नहीं किया गया था| क्रिकेट के अलावा मैदान ने टेनिस और फुटबॉल मैचों के साथ-साथ संगीत कार्यक्रमों और संगीत कार्यक्रमों की मेजबानी की है। यहा पहला मैच 9 December 1948 में खेला गया था|

2. वानखेड़े स्टेडियम :-

वानखेड़े स्टेडियम मुंबई मे एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है। 2011 क्रिकेट विश्व कप के पुनर्निर्माण के बाद, स्टेडियम में अब 33,108 की क्षमता है। उन्नयन से पहले इसकी क्षमता लगभग 45000 थी। स्टेडियम अतीत में कई हाई-प्रोफाइल क्रिकेट मैचों की मेजबानी कर चुका है, विशेष रूप से 2011 क्रिकेट विश्व कप फाइनल, जिसमें भारत ने श्रीलंका को हराया और घरेलू धरती पर क्रिकेट विश्व कप जीतने वाला पहला देश बन गया। स्टेडियम ने सचिन तेंदुलकर के अंतरराष्ट्रीय करियर के आखिरी मैच की मेजबानी की। स्टेडियम ने उस मैच की मेजबानी भी की जिसमें रवि शास्त्री ने एक ओवर में छह छक्के लगाए। 14 जनवरी 2020 तक, इसने 25 टेस्ट, 21 ODI और 7 T20I की मेजबानी की है।

3. विदर्भा क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम :-

विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम जिसे New VCA स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है, नागपुर में है। क्षेत्रफल की दृष्टि से यह भारत का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है। जनवरी 2020 तक इसने भारत के किसी भी स्टेडियम द्वारा सबसे अधिक T20I मैचों (12) की मेजबानी की है। 10 नवंबर 2019 तक इसने 6 टेस्ट, 9 वनडे और 12 T20I की मेजबानी की है।

4. महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम :-

महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे से दूर गहुंजे, पुणे में स्थित एक क्रिकेट स्टेडियम है।
10 अक्टूबर, 2019 तक इसने 2 टेस्ट, 4 ODI और 3 T20I की मेजबानी की है| एमसीए स्टेडियम का उद्घाटन अप्रैल 2012 में महाराष्ट्र के पूर्व कैबिनेट मंत्री के भतीजे शांतनु सरनायक ने किया था और पहला मैच अप्रैल 2012 में किंग्स इलेवन पंजाब और पुणे वारियर्स के बीच खेला गया था। स्टेडियम में पहला ट्वेंटी 20 अंतर्राष्ट्रीय मैच भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया था। दिसंबर 2012। आयोजन स्थल पर पहला टेस्ट मैच फरवरी 2017 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था।

5. बॉम्बे जिमखाना :-

1875 में स्थापित बॉम्बे जिमखाना मुंबई शहर में प्रीमियर जिमखाना (खेल क्षेत्र) में से एक है। यह दक्षिण मुंबई क्षेत्र में स्थित है और मूल रूप से केवल एक ब्रिटिश क्लब के रूप में बनाया गया था| इसमें एक शॉर्टकट लेन है जो चर्चगेट को छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से जोड़ती है। इसमें केवल एक test मैच 15 December 1933 में खेला गया था|

6. नेहरु स्टेडियम :-

नेहरू स्टेडियम, जिसे पहले क्लब ऑफ महाराष्ट्र ग्राउंड के नाम से जाना जाता था, पुणे में एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है। यह मुख्य रूप से क्रिकेट मैचों के लिए उपयोग किया जाता है। स्टेडियम 1969 में बनाया गया था और इसकी क्षमता 25,000 है। यह पहला मैच 5 december, 1984 में हुआ था और इसमें अबतक 11 ODIS हो चुके है|

तमिल नाडू में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यह पर 2 स्टेडियम स्तिथ है

1. जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम :-

जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम (जिसे मरीना एरिना भी कहा जाता है) चेन्नई में एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है। इसमें 40,000 लोगों के बैठने की क्षमता है। यह फुटबॉल मैचों और एथलेटिक प्रतियोगिताओं की मेजबानी करता है। परिसर में 5,000 लोगों के बैठने की क्षमता वाला एक बहुउद्देश्यीय इनडोर स्टेडियम भी है जो वॉलीबॉल, बास्केटबॉल, टेबल टेनिस खेलों की मेजबानी करता है। स्टेडियम का उपयोग कार्यों और संगीत कार्यक्रमों के लिए भी किया जाता है। स्टेडियम का नाम भारत के पहले प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू के नाम पर रखा गया है। स्टेडियम ने पहले 1956 और 1965 के बीच क्रिकेट टेस्ट मैचों की मेजबानी की थी। 19 अगस्त 2017 तक इसने 9 टेस्ट की मेजबानी की है।

2. M. A. चिदंबरम स्टेडियम :-

एम ए चिदंबरम स्टेडियम चेन्नई में एक क्रिकेट स्टेडियम है। 1916 में स्थापित, यह कोलकाता में ईडन गार्डन के बाद देश का दूसरा सबसे पुराना क्रिकेट स्टेडियम है। पूर्व में मद्रास क्रिकेट क्लब ग्राउंड के रूप में जाना जाता था, स्टेडियम का नाम एम ए चिदंबरम चेट्टियार, बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष और टीएनसीए के प्रमुख के नाम पर रखा गया है। इसे चेपॉक स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है। चेपॉक ने 10 फरवरी 1934 को अपना पहला टेस्ट मैच, 1936 में पहला रणजी ट्रॉफी मैच और 1952 में इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय क्रिकेट टीम की पहली टेस्ट जीत की मेजबानी की। चेपॉक में आयोजित 1986 का भारत-ऑस्ट्रेलिया मैच खेल के इतिहास में केवल दूसरा टाई टेस्ट था।

तेलंगाना में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

यह 2 स्टेडियम स्तिथ है

1. राजीव गाँधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम :-

राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैदराबाद में एक क्रिकेट स्टेडियम है। इसकी क्षमता 55,000 है। 3 मार्च 2019 तक इसने 5 टेस्ट, 6 ODI और 2 T20I की मेजबानी की है। इस स्टेडियम ने 2017 इंडियन प्रीमियर लीग के ओपनर और फाइनल की मेजबानी की, और 2019 इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल की भी मेजबानी की।

2. लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम :-

लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम, जिसे पहले फतेह मैदान के नाम से जाना जाता था, हैदराबाद में एक बहुउद्देश्यीय खेल स्टेडियम है। स्टेडियम मुख्य रूप से क्रिकेट और एसोसिएशन फुटबॉल के लिए उपयोग किया जाता है।
1967 में भारत के पूर्व प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री की याद में स्टेडियम का नाम बदल दिया गया था। 19 अगस्त 2017 तक इसने 3 टेस्ट और 14 एकदिवसीय मैचों की मेजबानी की है।

उत्तराखंड में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम देहरादून, उत्तराखंड के रायपुर क्षेत्र में एक बहुउद्देश्यीय स्टेडियम है। यह राज्य का पहला अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम है और इसका निर्माण शापूरजी पलोनजी इंजीनियरिंग एंड कंस्ट्रक्शन द्वारा किया गया था। स्टेडियम के निर्माण की लागत 237 करोड़ थी। मई 2018 में, अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) ने पुष्टि की कि अफगानिस्तान 2018 में बांग्लादेश की मेजबानी करेगा, यह स्टेडियम में पहला अंतरराष्ट्रीय मैच था। राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की मेजबानी करने वाला भारत का 21वां स्थान है, और 51वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्थल है। इसमें पहला मैच 3 जून 
2018 में हुआ था|

वेस्ट बंगाल में कितने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं..?

ईडन गार्डन कोलकाता, भारत में एक क्रिकेट मैदान है। वर्तमान में स्टेडियम की क्षमता 80,000 है।
ईडन गार्डन को अक्सर भारतीय क्रिकेट का घर कहा जाता है। यह भारत के सभी क्रिकेट स्टेडियमों में सबसे तेज आउटफील्ड है, और इसे "बल्लेबाजों का स्वर्ग" माना जाता है। ईडन गार्डन को "भारतीय क्रिकेट का मक्का" कहा जाता है, क्योंकि यह भारत में क्रिकेट के खेल के लिए पहला आधिकारिक रूप से निर्मित मैदान है। ईडन गार्डन्स ने विश्व कप, विश्व ट्वेंटी 20 और एशिया कप सहित प्रमुख अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में मैचों की मेजबानी की है। 1987 में, ईडन गार्डन विश्व कप फाइनल की मेजबानी करने वाला दूसरा स्टेडियम बन गया। यह पर 42 test, 30 ODIs और 7 T20 हो चुके है| इसमें पहला मैच 5 January, 1934 को हुआ था|
Default image
Viral Facts India
Articles: 296

Leave a Reply

close